मुठभेड़ में गैंगस्टर विकास दुबे ढ़ेर,8 दिन में 6 बदमाशों का एनकाउंटर

Gangster Vikas Dubey encounter4 policemen also injured
गैंगस्टर विकास दुबे (Gangster Vikas Dubey) का एनकाउंटर (Encounter ) हो गया है। आज सुबह यूपी पुलिस और विकास दुबे में करीब दस मिनट तक मुठभेड़ हुई,जिसमें विकास दुबे को ढेर कर दिया गया। मुठभेड़ यूपी पुलिस की गाड़ी पलटने के बाद हुई, जब विकास दुबे (Vikas Dubey) ने हथियार छीनकर भागने की कोशिश की थी। पिछले आठ दिनों में यूपी पुलिस ने विकास दुबे सहित उसके छह बदमाशों को एनकाउंटर में ढेर कर दिया।

 
 

जानकारी के अनुसार विकास दुबे को उज्जैन से लाते समय पुलिस की गाड़ी पलट गई। इस दौरान विकास ने एसटीएफ के जवान का पिस्टल लेकर भागने की कोशिश की। विकास हाइवे की तरफ भागने की कोशिश की। इस दौरान एसटीएफ ने फायरिंग की,जिसमें विकास गंभीर रूप से घायल हो गया। जिसे कानपुर के हैलेट अस्पताल ले जाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। कानपुर के आईजी ने विकास के मारे जाने की पुष्टि की। मुठभेड़ में चार पुलिसकर्मी घायल (4 Policemen Injured) हुए हैं,जिनका कल्याणपुर अस्पताल में इलाज चल रहा है।
 
 


ऐसे हुआ विकास का एनकाउंटर

कानपुर के बिकरू गांव में सीओ सहित आठ पुलिसकर्मियों की हत्या करने वाले गैंगस्टर विकास दुबे को यूपी पुलिस ट्रांजिट रिमांड पर उज्जैन से कानपुर ला रही थी। कानपुर से 17 किलोमीटर पहले बर्रा थाना क्षेत्र में सुबह करीब साढ़े छह बजे काफिले की एक कार पलट गई। विकास उसी गाड़ी में बैठा था, हादसे के बाद उसने पुलिस टीम से पिस्टल छीनकर हमला करने की कोशिश की। जवाबी कार्रवाई में विकास गंभीर घायल हो गया।
 
 


विकास के सीने और कमर में लगी गोली

मुठभेड़ में विकास दुबे (Gangster Vikas Dubey) के सीने और कमर में गोली लगी है। गंभीर घायल अवस्था में उसे अस्पताल ले जाया गया जहां उसे सुबह सात बजकर 55 मिनट पर मृत घोषित कर दिया गया। विकास को गुरुवार को उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार किया गया था।
 
 
 
 


आठ दिन में विकास दुबे समेत छह बदमाशों का एनकाउंटर

यूपी पुलिस और एसटीएफ के अधिकारी अभी एनकाउंटर के बारे में अधिक जानकारी देने से बच रहे हैं। पुलिस के आला अधिकारी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पूरी जानकारी देने की बात कह रहे हैं। माना जा रहा है कि तेज बारिश की वजह से पुलिस की गाड़ी पलट गई। विकास दुबे (Gangster Vikas Dubey) के शुक्रवार को एनकाउंटर से पहले बुधवार देर रात उसके करीबी प्रभात मिश्रा को मारा गया था। प्रभात को फरीदाबाद से पकड़ा गया था। रास्ते में प्रभात ने पुलिस की पिस्टल छीनकर भागने की कोशिश की थी,जवाबी कार्रवाई में उसे मार दिया गया। बुधवार को ही अमर दुबे का भी एनकाउंटर किया गया। अब तक विकास के पांच लोग एनकाउंटर में मारे जा चुके हैं।
 
 
 

Related posts

Leave a Reply